Wednesday, August 11, 2010

Campfire opening song (hindi)

आग हुई है रोशन आओ,
आओ आग के पास!

आग से रोशन अपनी बस्ती,
कैसी भुलन्दी कैसी मस्ती,
रंजो-आलमको भूल-भुलाओ,
आओ आग के पास!

सूरज दूबा निकले तारे,
खत्म हुए सब काम हमारे,
मिलकर भाग जगाओ गाओ,
आओ आग के पास!

1 comment: